Our Journal

News, updates and musings about the library, reading and the wider community from members, volunteers and staff

6th October 2020
"कुछ किताबों को – ख़ास कर ऐसी किताबें जो नफरत या भेदभाव को बढ़ावा देती हैं – सिर्फ निरपेक्ष और खामोश नज़रिये से नहीं देखा जा सकता है। इस रवैय्ये से किताब के खतरनाक विचारों को बढ़ावा मिलता है।" - लिंडा होइसेट

किसी भी लाइब्रेरी में पुस्तकों को कैटलॉग करने का काम बहुस्तरीय होता है और उन परतों, यानि अलग-अलग स्तरों, के भीतर छिपी विशेषाधिकार और पूर्वधारणा, शुरुआत में अक्सर नज़र नहीं आते हैं। थोड़ी गहराई से देखें, तो फिर एक लाइब्रेरियन के हैसियत से आपको ऐसे सवालों का सामना करना पड़ता है जो सामान्य कैटलॉगिंग की […]

Read More
21st August 2020
Justice Doctrine for Delhi’s Citizens

On July 22nd, 2020 we at The Community Library Project (TCLP) were part of ~100 signatories, who sent the Delhi Government  an email with the subject “Relief for Non-PDS Cardholders: Joint Letter from Non-Government/ Civil Society Groups”.  Now, TCLP is following it up with a Justice Doctrine for Delhi’s Citizens which can be found in […]

Read More
19th August 2020
“लाइब्रेरी में किताबों को कैसे कैटलॉग करना है इसका एक ही मकसद होना चाहिए -- पाठकों को उनके मन की किताब आराम से मिल जाए। इसके लिए कोई भी पक्के नियम नहीं हैं।“

“लाइब्रेरी में किताबों को कैसे कैटलॉग करना है इसका एक ही मकसद होना चाहिए -- पाठकों को उनके मन की किताब आराम से मिल जाए। इसके लिए कोई भी पक्के नियम नहीं हैं।“

Read More
15th August 2020
Library Through The Lockdown And Beyond

When I first moved to this neighborhood, I wasn’t aware that there was a community library close to home. As I came to the library for the first time with a friend I noticed a Sir doing a read aloud. I sat down to listen to a story. Later I realized I could take books […]

Read More
7th August 2020
लॉकडाउन में और उसके बाद भी लाइब्रेरी

कुछ साल पहले जब मैं शिफ्ट हुआ, तब मुझे अपने घर के पास की कम्युनिटी लाइब्रेरी के बारे में पता नहीं था। मेरे एक दोस्त ने मुझे लाइब्रेरी के बारे में बताया और एक दिन हम वहाँ पहुंच गए- एक सर कोई कहानी सुना रहें थे जो सब दिलचस्पी के साथ सुन रहे थें। तो […]

Read More
20th July 2020
"With some texts - particularly texts that promote some form of hate or discrimination - remaining 'neutral' and saying nothing favors the text" - Linda Hoiseth

Cataloging of books is multilayered, and hidden within those layers are privileges and prejudices that might be invisible at first instance. Look deeper and as a librarian you are faced with questions that are trickier than general cataloging of books. Should religious texts be classified as non-fiction, as they largely are all over the world? […]

Read More
13th July 2020
"The goal (of cataloging) is to help your patrons find what they are looking for. The only thing you should do is what makes the most sense for your readers," - Linda Hoiseth

We have found that cataloging the collections in our TCLP libraries can be challenging. On numerous occasions we have questioned whether a book should go in the Picture Books section or should it be classified as Fiction Easy. How do we make information easily available to readers, who look for books by specific authors or […]

Read More
10th July 2020
विशेषाधिकार और लाइब्रेरी

आजकल, मैं अक्सर विशेषाधिकार के बारे में सोचती हूँ।  विशेषाधिकार या विशेष अधिकार का मतलब हुआ — किसी एक व्यक्ति के पास किसी अन्य व्यक्ति के मुकाबले अधिक अधिकारों का होना। मैं अमेरिका के मिनेसोटा राज्य से हूँ, जहां एक महीने पहले ही जॉर्ज फ्लॉयड नामक एक व्यक्ति की पुलिसकर्मी ने हत्या कर दी। इस […]

Read More
2nd July 2020
Privilege and Libraries

I’ve been thinking about privilege a lot lately. I’m from Minnesota, where a month ago George Floyd was murdered by the police, launching a long-overdue conversation about race and racism and privilege. I’ve been reading, thinking, advocating, and talking with friends and family about privilege. I’m trying to come to terms with my privilege and […]

Read More
24th April 2020
किताबें बोलती है "दुनिया सबकी है!"

आज का दिन कुछ बोरिंग सा था मैंने इस बोरियत को दूर करने के लिए किताबों  के ढेर से आखिर एक किताब को ढूँढ ही लिया जो मेरी बोरियत को दूर करने में मेरी मदद कर सकती थी किताब का पहला पन्ना जिस पर बहुत ही खूबसूरती से लिखा था "दुनिया सबकी" - सफ़दर हाशमी […]

Read More
1 2 3 5
The Community Library Project
Dharam Bhavan, C-13 Housing Society
South Extension Part -1
New Delhi - 110049
Illustrations provided by Priya Kurien.
Creative Commons License
This work is licensed under a Creative Commons Attribution-NonCommercial-ShareAlike 4.0 International License.
linkedin facebook pinterest youtube rss twitter instagram facebook-blank rss-blank linkedin-blank pinterest youtube twitter instagram